क्या आप जितना सोचते हो उससे कई ज्यादा आकर्षक हो

 


  हर इंसान के देखने का नजरिया अलग होता है और उसका नजरिया उसके आसपास के लोगों से और उस वातावरण से प्रभावित होकर बना होता है

हर इंसान की अपने बारे में राय अपनी पर्सनालिटी की वजह से होती है तो आज की में हम लोग आकर्षक होने के बारे में बात करेंगे कुछ लोग अपनी attractiveness को ओवररेटेड कर देते हैं वे अपने आप को जरूरत से ज्यादा आकर्षक और सुंदर मानते हैं वहीं कुछ लोग अपने आप को बिल्कुल भी आकर्षक नहीं मानते हैं ऐसा इसलिए होता है की उनका मानना होता है कि अगर इंसान को अट्रैक्टिव बनना है तो उसको अपने नेगेटिव चीजों पर ध्यान देना चाहिए जिस वजह से भी अपने अंदर की सारी पॉजिटिव चीजों को तो भूल ही जाते हैं और नेगेटिव चीजों में फस कर रह जाते हैं और अपने आप को बहुत कम आकर्षक मानने लगते हैं या बिल्कुल भी बेकार मानने लगते हैं जिसकी वजह से उनका सेल्फ कॉन्फिडेंस भी कम हो जाता है ।
........तो अगर आपको भी लगता है कि आप कम अट्रैक्टिव हो तो यह पोस्ट आपके लिए है क्योंकि आज की पोस्ट में मैं आपको कुछ ऐसे साइन बताऊंगा जो अगर आप में हैं तो आप किसी से बिल्कुल भी कम नहीं हो बस आपका वहम है वह भी इन साइन से दूर हो जाएगा तो चलिए शुरू करते हैं,
1. आप दूसरों से अलग हो evolutionary psychology मैं एक ऐसा टॉपिक है जिसे होमोगामी कहते हैं जिसके अनुसार हर इंसान को भी इंसान पसंद आते हैं या फिर अट्रैक्टिव लगते हैं जिसमें उनके जैसे ही गुण होते हैं और फिर वह उस इंसान को अपने आप से कंपेयर करने लगते हैं और कैसे भी करके अपने आप को उसी से कमजोर साबित कर लेते हैं और फिर अपने आपको काम अट्रैक्टिव मानने लगते हैं हां ऐसा भी हो सकता है कि वह आदमी आपसे कुछ चीजों में ज्यादा आगे हो लेकिन अट्रैक्टिव होने का मतलब किसी एक पर्टिकुलर बे में आगे होना नहीं होता है जबकि बल्कि अट्रैक्टिव होने का मतलब ओवरऑल पर्सनैलिटी अच्छी होना होता है लेकिन हम अपने आप को किसी एक क्षेत्र में ही जैसे पढ़ाई के क्षेत्र में या फिर फिटनेस के क्षेत्र में किसी दूसरे से कंपेयर करने लगते हैं और दुर्भाग्य से उनमें थोड़ा सा कमजोर होने की वजह से हम उन क्षेत्रों को भूल ही जाते हैं जिनमें हम बहुत ज्यादा अच्छे हैं या फिर हमारा कोई मुकाबला नहीं है और हमेशा परेशान होते रहते हैं तो अगर आप आगे से अपने आप को किसी से कंपेयर करें तो आप अपनी ओवरऑल पर्सनालिटी को उससे कंपेयर करें।
2. लोगों के लिए मानना मुश्किल होता है कि आपकी भी इनसिक्योरिटीज हैं अगर आपके साथ ऐसा होता है कि आप अपने किसी फ्रेंड को या किसी रिश्तेदार को जो आपके उम्र का है उसे आप कभी बताते हो कि आप किस वजह से परेशान रहते हो या फिर आप अपने आप को लेफ्ट अट्रैक्टिव मानते हो या फिर आप उसे अपनी इनसिक्योरिटीज के बारे में बताते हो तो उसे आप पर विश्वास नहीं होता है वह कहता है कि नहीं ऐसा नहीं हो सकता मैं तुम्हारे बारे में ऐसा बिल्कुल नहीं सोचता हूं मैं तो तुम्हें बहुत अट्रैक्टिव मानता हूं या फिर मैं तो तुम्हारे बारे में बिल्कुल ही अलग राय रखता हूं अगर आपके साथ भी किसी दोस्त या रिश्तेदार के साथ बात करने पर ऐसा होता है तो विश्वास मानिए कि आप जितना सोचते हैं आप उससे कई ज्यादा अट्रैक्टिव हैं बशर्ते वह आपका बहुत ज्यादा कोई पक्का दोस्त ना हो क्योंकि ऐसे दोस्त हमेशा मजाक उड़ाने पर ही लगे रहते हैं बे आपको कभी सच नहीं बताएंगे फिर आपको विश्वास कर लेना होगा कि आपने अपने बारे में केवल राय बना रखी है सच्चाई नहीं है।
3. लोग आपकी तरफ देखकर स्माइल पास करते है ह्यूमन माइंड का एक नेचर होता है जब वह किसी अट्रैक्टिव चीज को देखता है या फिर उसे लगता है कि कोई भी इंसान अट्रैक्टिव है तो वह उसके लिए ना चाहते हुए भी इस्माइल पास करता है आपके साथ भी कई बार ऐसा हुआ होगा जब आप किसी अपने अनुसार अट्रैक्टिव इंसान से मिलते हैं तो आप उसे देखकर एक बड़ी सी स्माइल पास करते हैं यह इस्माइल उस इस्माइल से बिल्कुल अलग होती है जो आप किसी को आदर देने के लिए या फिर फॉर्मेलिटी के लिए पास करते हो स्माइल बहुत देर तक चेहरे पर रहने वाली होती है तू अगर आपके साथ भी ऐसा होता है आपके आसपास निकलने वाले अजनबी अक्सर आपको देखकर इस्माइल देते हैं तो आपको विश्वास करना होगा कि आप वह वास्तव में अट्रैक्टिव हो केवल आपने यह भावना बना रखी है कि आप अट्रैक्टिव नहीं हो.

4.आप अपने आप को सिर्फ अपने से ज्यादा अट्रैक्टिव लोगों से कंपेयर करते हो यह नियम कुछ इस तरह से काम करता है कि अगर कोई इंसान बहुत ज्यादा अमीर है फिर भी वह इंसान बिल्कुल खुश नहीं रह सकता या फिर खुश नहीं रह सकता जब तक कि उस के पास संतोष नहीं है क्योंकि अगर वह बहुत ज्यादा अमीर भी हो लेकिन फिर भी उससे कोई ना कोई इंसान तो ऐसा होगा ही जो और ज्यादा अमीर होगा और जिस दिन वह व्यक्ति उस इंसान से मिलेगा तो उसकी सारी खुशी गायब हो जाएगी क्योंकि उसकी खुशी उसकी खुद की नहीं है वाह अपने आप को दूसरे से सुपीरियर देखना चाहता है लेकिन ऐसा कभी नहीं हो सकता है क्योंकि इस दुनिया में कोई इंसान सर्व शक्तिशाली या फिर सर्व सुंदर नहीं है और ना ही कोई इंसान हमेशा रहने वाला है तो आपको कभी दूसरे से अपने आप को कम पर नहीं करना चाहिए क्योंकि इसकी वजह से आप अपने पास जो कुछ भी है उसको भी इंजॉय करना भूल जाते हैं और बेवजह अपनी पूरी जिंदगी जलन में या फिर परेशानी में ही निकाल देते हैं इसी तरह आपको कभी भी अपने आप से ज्यादा अट्रैक्टिव इंसान से अपने आप को कंपेयर नहीं करना चाहिए या फिर आपको किसी से भी अपने आपको कंपेयर नहीं करना चाहिए।
5.आप attraction और attractiveness को same मानते हो अट्रैक्शन का मतलब होता है कि जब आप किसी इंसान को देखते हो तब आप उसकी ओवरऑल पर्सनैलिटी जज करते हो मतलब आप देखते हो कि वह इंसान कितना पैसा कमाता है देखने में कैसा है उसकी आदतें कैसी हैं और जब आप उसकी इन सब चीजों को देखते हो तो आप उसकी ओर अट्रैक्ट होते हो जबकि अट्रैक्टिव ने इसका मतलब होता है कि आप उसकी आउटर लुक्स को देखकर ही कुछ समय के लिए अट्रैक्ट हो सकते हो तो एक ही समय पर ऐसा भी हो सकता है कि आप किसी इंसान को देखकर अट्रैक्ट हुए हो लेकिन आपको उससे अट्रैक्शन ना हुआ हो जैसे कि अगर किसी इंसान की आदत है दूसरों की सहायता करने की तो वह इंसान अक्सर लोगों को आसानी से अट्रैक्ट कर सकता है तो आपको अपने अंदर भी ओवरऑल पर्सनालिटी को डिवेलप करने में काम करना चाहिए ना कि सिर्फ आउटलुक्स पर ध्यान देते रहना चाहिए।
6. आप से मिलने वाले लोग आपके लिए स्ट्रांग फीलिंगस रखते हैं अगर आपके रिलेटिव या आपके फ्रेंड सर्कल के लोग आप को लेकर बहुत ज्यादा सीरियस हैं तो इसका मतलब है कि आप वास्तव में अट्रैक्टिव हो मतलब की अगर आपके आसपास कोई इंसान आपसे बहुत ज्यादा अट्रैक्ट है वह आपको बहुत ज्यादा पसंद करता है और आपकी बहुत तारीफ भी करता है और आपकी पीठ पीछे भी आपकी बुराई नहीं करता है मतलब कि वह आप के प्रति बहुत मजबूत फीलिंग रखता है या फिर आपका कोई दूसरा ऐसा साथी है जो आपके प्रति बहुत ज्यादा नफरत रखता है वह आपके पीठ पीछे भी आपकी बहुत बुराई करता है तो इसका मतलब है कि आप बहुत ज्यादा अट्रैक्टिव हो क्योंकि लोग हमेशा अट्रैक्टिव चीजों पर ही ध्यान देते हैं नॉर्मल चीजों को हमेशा इग्नोर कर देते हैं।

7. आपको relationships काफी इजीली अवेलेबल रहते हैं अगर आपके पास रिलेशनशिप में आने की बहुत ज्यादा मौके रहते हैं मैं यह नहीं कह रहा हूं कि आप बहुत ज्यादा रिलेशनशिप में रहते हैं मैं सिर्फ कह रहा हूं कि आपके पास रिलेशनशिप में आने की बहुत ज्यादा मौके रहते हैं मतलब आपके आसपास ऐसे लड़के या लड़की अच्छी खासी संख्या में होते हैं जो आपके साथ रिलेशनशिप में आना चाहते हैं या जो हमेशा आपके साथ फ्लर्ट करते रहते हैं तो यह एक सीधा सा रीजन है कि आप बहुत ज्यादा अट्रैक्टिव हो आपने केवल अपने प्रति एक बेकार सी धारणा बना रखी है कि आप अट्रैक्टिव नहीं हो।

धन्यवाद

No comments:

Powered by Blogger.